Festivals

Makar Sankranti 2021: Significant Time Date Wishes Messages Kite Wishes 2021

Makar Sankranti 2021: The importance of 'kites' on Makar Sankranti, read Kite Wishes & shyari

Makar Sankranti 2021: The festival of Makar Sankranti (Makar Sankranti 2021) is celebrated on the 14th or 15th of January every year. This year, this festival will be celebrated on 14 January. The festival of Makar Sankranti Festival holds special significance in Hinduism. On this day, devotees worship Lord Sun with devotion. On the day of Makar Sankranti, the kite is also flown along with joy as much as charity and bath are done with reverence. This festival is celebrated in different ways in every state of the country. In Gujarat, special kite flying is organized on the day of Makar Sankranti. For this reason, Makar Sankranti Shayari is also called the festival of kites.

Happy Makar Sankranti

Also, Read

On the day of Makar Sankranti, you can congratulate your friends and relatives for the festival through these kite poets on the day of Makar Sankranti. Read these great poets on the occasion of Sankranti.

Makar Sankranti Wishes in Hindi

-मैं हूँ पतंग-ए-काग़ज़ी डोर है उस के हाथ में

चाहा इधर घटा दिया चाहा उधर बढ़ा दिया

नज़ीर अकबराबादी

-पतंग कट गई तो इस का इतना ग़म क्यूँ है

पतंग उड़ाने से पहले ये जान लेना था

शहराम सर्मदी

-पतंग उड़ाने से क्या मनअ कर सके ज़ाहिद

कि उस की अपनी अबा में पतंग उड़ती है

ज़फ़र इक़बाल

-लेकिन नीले आसमान को

देख नहीं पाता हूँ मैं

दिखाई देती है बस मुझ को अपनी पतंग

आसमान और मिरे दरमियाँ

जयंत परमार

-बाम-ए-फ़लक पे गर वो उड़ाता नहीं पतंग

ख़ुर्शीद ओ माह डोर के फिर किस की गोले हैं

मुसहफ़ी ग़ुलाम हमदानी

-कटी पतंग की मानिंद डोलते हो तुम

मुझे वतन से निकाले गए लगे हो तुम

मुनीर अनवर

-पतंग उड़ाने से पहले ये जान लेना था

शहराम सर्मदी

Happy Makar Sankranti

-पतंग उड़ाने से पहले ये जान लेना था

कि इस की असल है क्या और माहियत क्या है

बहुत नहीफ़ सी दो बाँस की खपंचें हैं

और उन से लिपटा मुरब्बे में ना-तवाँ काग़ज़

ये जिस के दम पे हवा में कुलेलें भरती है

ज़रा सी ज़र्ब से वो डोर टूट जाती है

पतंग कट गई तो इस का इतना ग़म क्यूँ है

पतंग उड़ाने से पहले ये जान लेना था

कि इस की असल है क्या और माहियत क्या है

Makar Sankranti Subh Muhurat & Time

14 January 2021 08:29 AM IST

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button